Saturday, 19 May 2018

वाहनों का आविष्कार - Invention of vehicles

वर्तमान में जो वाहन हम उपयोग करते है. क्या आप जानते है उनका आविष्कार कैसे हुआ, शायद नहीं, तो चलिए दोस्तों जानते वाहनों का आविष्का कब हुआ - When were vehicles invented, वाहनों के जनक कोण, वाहन कैसे निर्माण हुए, वाहनों शोध कैसे लगा - How did vehicles research, वाहनों का आविष्कार - Invention of vehicles कैसे और कब हुआ इसकी जानकारी आपके भाषा में देने जा रहे है उम्मीद है की आप इस लेख को अधिक से अधिक पसंद करेंगे और शेयर करेंगे.
invention of vehicles
नमस्कार दोस्तों आप सभी को पता है, जो हम दैनंदिन उपयोग में वाहनों का इस्तेमाल करते है. वो वाहन का अविष्कार कैसे और कब हुआ ये हम जानते ही नहीं, परंतु अब आपको इस लेक के द्वारा हम उसके बारे मे सविस्तर जानकारी बताने वाले है. जो वाहनों का आविष्कार कैसे हुआ, कब हुआ, और इसके जनक कोण, इनके बदौलत जो हम वाहनों का दैनदिन जीवन में उपयोग कर रहे है.


वाहनों का आविष्कार - Invention of vehicles :- 

आप जानते होंगे की वर्ष 1672 में ऐसा एक मॉडल खिलौने के रूप में विकसित किया गया था. यह वास्तव में एक भाप वाला इंजिन था. इसमें खिलौने को गति प्रदान करने के लिए भाप की शक्ति का उपयोग कीया गया था। दुनिया के विभिन्न भागो में इसमें आगे सुधार जारी रही. वर्ष 1806 में आतंरिक दहन (Internal Combustion) वाले इंजिन से चलने वाली पहली कार तैयार की गई. इसे चलाने के लिए इस्तेमाल होने वाला इंधन ''भाप'' के स्थान पर इंधन गैस थी. बेशक इंधन गैस का उपयोग करने की प्रक्रिया भाप के आवश्यक प्रक्रिया से अलग थी.

इस बिच इंजीनियरों ने वर्ष 1885 तक इसकी डिजाइन में काफी सुधार किया गया, जब यूरोप में सबसे पहला आधुनिक गैसोलीन या पेट्रोल इंधन पर चलने वाले इंजिन का विकास किया गया था. साथ ही शुरुआती मॉडल में आराम की कोई विशेषता नहीं होती. जबकि अधिकांश लोग नए मॉडल की मांग करते है तो इनकी कीमतों में गिरावट सुरु होती है. इसे आम उपभोक्ताओं के लिए आकर्षक बनाने हेतु कई विशेषताए जोड़ी जाती है.

कार्ल बेंज जर्मन इंजीनियर ने सन 1885 में कर की प्रथम रचना बनाई. इसमें आतंरिक दहन इंजिन का उपयोग किया गया. जो उस समय उसे मोटरवैगन के नाम से जाना जाता था. जबकि अन्य जर्मन इंजीनियरों ने उसी समय नए आविष्कार किए, किन्तु कार्ल बेंज को आधुनिक ऑटोमोबाइल के आविष्कार के रूप में मान्यता दी गई. आने वाले वर्ष में उनकी कंपनी ''बेंज एन्ड साइ'' नाम से जानि गई जो वर्ष 1883 में उसकी स्थापना हुई.

वर्ष 1879 में बेंज को पहले इंजिन का पेटेंट दिया गया, जिसकी डिजाइन वर्ष 1878 में हुई थी. उनके आविष्कारों में आतंरिक दहन इंजिन का उपयोग किया गया, जिसके मदत से वाहन चलाए गए. उनकी पहली मोटर वैगन वर्ष 1885 में बनाई गई थी. उन्हें 29 जनवरी 1886 को आविष्कार के लिए पेटेंट किया गया. उसी समय मॉडल के साथ उनकी चार पहिया गाड़ी का आविष्कार हुआ. जो चार स्ट्रोक इंजिन से पॉवर दीया जाता था. इस बिच नए आविष्कार होते गए और नए वाहनों का अविष्कार और बिक्री की गई थी.

यह आर्टीकल जरूर पढ़े.........

प्रथमत: वाहन चलानी वाली महिला :- 

invention of vehicle

वर्ष 1888 में कार्ल बेंज की पत्नी, बर्थ बेंज ने अपने पति के अविष्कार का प्रदर्शन सड़क पे सिद्ध किया. उनके द्वारा प्रथमत: वाहन सड़क पे चलाया गया. 19th सताब्दी के अंत तक अनेक ऑटोमोबाइल कंपनियो का विकास हुआ. किन्तु वाहन उस समय बहुत महंगे हुआ करते थे इस लिए सिर्फ बहुत अमिर या राजा महाराजा के पास ही वाहन हुया करते थे. जो एक गरीब व्यक्ति का सिर्फ सपना था, वह वाहन खरीद नहीं सकता था.

यूरोप और अमेरिका ने वाहनों की कीमत घटाने के कई प्रयाश किए. वर्ष 1802 में मार्क इसमबार्ड बुलें द्वारा कई तकनीक पर बड़े पैगाम में उत्तपादन लाइन निर्माण की गई. उस वजह से कही ऑटोमोबाइल कंपनी को आगे बढ़ीते गए. इस अंकल्पना को वर्ष 1914 के शुरुआत में हैनरी फोर्ड नामक व्यक्ति ने आगे बढ़ाया. इस प्रक्रिया के सुरु होने पर उन्होंने मॉडल टी को बड़े पैगाने पर उत्तपादन करने के लिए फोर्ड मोटर कंपनी बनाई गई. वर्ष 1920 में अमेरिका ने लगभग 200 मॉडल कार का उत्तपादन किया गया. इसी तरह वाहनों का अविष्कार होता गया.


वाहनों का आविष्कार (द्वितीय विश्व यद्ध के बाद) :-  

अमेरिका में दूसरे युद्ध के बाद सड़को का विस्तृत जाल का निर्माण किया गया था. यह सडको की रचना बहुत आधुनिक थी, जिसमे देश की सभी दिशाओ को जोड़ने वाले राजमार्ग थे. अमीरिका का भूगोल और भूमि देखके चौड़ी सड़क बनाना संभव था. इसलिए वह पे बीटल जैसी वाहन बहुत छोटी दिखाई देती थी.
यह आर्टीकल जरूर पढ़े.......
AUTOMOBILE  TECHNOLOGY  
 ELECTRICAL  TECHNOLOGY  

इस दौरान अमेरिका के सडको पर चलने लायक वाहनों का आविष्कार किया गया, जिसमे एडसन, बुक, शेवरलेट, इत्यादि वाहन बड़े पैगने में अमेरिका के राजमार्ग पर चलाई गई. इस मॉडलों में पॉवर का स्त्रोत देने के लिए पेट्रोल या गैसोलीन जैसे इंधन का उपयोग किया गया. उसी समय वर्ष 1973 को तेल समस्या वर्ष माना गया, क्युकि वाहनों के बढ़ते संख्या को देखकर और इंधन की कमी को सुधरते हुए.

अमेरिका के इंजीनियरों ने नै डिझाइन की तलाश की. इस बिच जापान ने वाहनों में नई तकनीकी लाना सुरु किया.वास्तव में दुसरे युद्ध के बाद जापान देश में विनाश हो जाने पर नई अनेक कंपनी या आई, जैसे टोयटा, माजदा, सुझुकि आदि. इन वाहनों में कुछ अमेरिकी तकनीक को उपयोग में लाया गया, परन्तु तेल समस्या वर्ष के कारण वाहनों में उनके अव्हरेज में काफी सुधारना की गई, और नए तकनिकी मॉडल का अविष्कार किया.

•  1966 -  (वर्तमान टोयोटा करोला)  साधारण छोटी जापानी सबसे ज्यादा बिक्री वाली कार है।
•  1970 - (वर्तमान रेंज रोव्हर) चार पहिए आराम संयोजन वाली कार,
•  1973 -  वर्तमान मर्सीडीझ बेंज एस क्लास) इस कार में पहली बार इलेक्ट्रॉनिक एन्टी लॉक ब्रेकिंग सिस्टिम , एअर बैग का उपयोग किया गया.
•  1975 - (वर्तमान बीएमडब्ल्यू ३ सीरीज) सबसे लम्बे समय तक चलने वाली कार,
•  1977 - (वर्तमान होंडा एकार्ड सेडान) एक जापानी कार,
•  1981 - 1989 (डोज एरिस और पॉलीमाउथ रिलाएट) ये मॉडल कुछ अमेरिका के फ्रंट विल ड्राइव जैसे थे.


दोस्तों, उम्मीद है की आपको वाहनों का आविष्कार - Invention of vehicles यह आर्टिकल पसंद आया होगा. यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ साझा करें और हमारे साथ जुड़े रहें और इसी तरह के दिलचस्प लेखों से अवगत होकर अपने ज्ञान को बढ़ाएं.

धन्यवाद...

हसते रहे - मुस्कुराते रहे.....
                                                                                                                            
Tags :- TechnologyTechnical Study, Automobile, Insurance, Online Study, Health, Science, Economy. 

संबंधित कीवर्ड :-
वाहनों का आविष्का कब हुआ - When were vehicles invented, वाहनों के जनक कोण, वाहन कैसे निर्माण हुए, वाहनों शोध कैसे लगा, Invention of vehicles कैसे और कब हुआ

यह आर्टीकल जरूर पढ़े....

करियर कैसे बनाये ☟  
  यह भी पढ़े ☟
ApnaSandesh.Com से संबंधित अपडेट के लिए, हमसे ☛  फेसबुक पेज और ☛  ट्विटर पर जुड़ें तथा Follow करें और नवीनतम लेखों से जानकारी प्राप्त करें.

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

हमें ट्विटर पर फॉलो करे

Popular Posts

नए लेख पाने के लिए अपना ईमेल यहाँ Free Submit करें