Saturday, 16 June 2018

मल्टीमीटर का उपयोग कैसे करे - How to use Multi Meter

दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से Electrical मापन साधन ( मल्टीमीटर - Multi meter ) का परिचय, उपयोग आदि के बारे में जानने वाले है।  विद्युत उपकरण , Current , Voltage आदि को मापने और परिक्षण के लिए बने होते है। दोस्तों यह उपकरण बैटरी और बिजली के साथ संचारित किए जाते है। सामान्य  रूप से इस मेकानिझम का उपयोग Work Shop , Garage , Industries, आदि जगह होता है।
How to use Multi Meter

कुछ तरह के मल्टीमीटर Diode , Measurement , Temperature , Rotation Speed Temperature के लिए design किए होते है। मल्टीमीटर या मल्टीटैस्टर (बहुपरीक्षक), जिसे टव्ड (वोल्ट-ओममीटर) के रूप में भी जाना जाता है, यह एक इलेक्ट्राॅनिक माप उपकरण है जिस में अनेक मापन क्रियाएं एक इकाई में संयुक्त रहती हैं। एक विषिष्ट मल्टीमीटर में ऐसे लक्षण हो सकते हैं जिस में वोल्टेज, करॅन्ट और प्रतिरोध को मापने की क्षमता होती है। मल्टीमीटर, एक हाथ से आयोजित युक्ति हो सकती है जिसे मूल दोषों को ज्ञात करने और क्षेत्र सेवा कार्य हेतु उपयोग में लाया जाता है। या बेंच आधारित उपकरण जिस से उच्च स्तर का परिषुद्ध मापन किया जा सकता है। इनका उपयोग औद्योगिक क्षेत्र और घरेलू उपकरणों जैसे कि इलेक्ट्राॅनिक उपकरण, मोटर नियंत्रण, घरेलू उपकरणों, बिजलीआपूर्ति, और वायरिंग प्रणाली की विद्युत समस्याओं के दोष निवारण हेतु किया जाता है।


मल्टीमीटर के साधारणतः दो प्रकार होते है -

❑  डिजिटल मल्टीमीटर
❑  एनॉलॉग मल्टीमीटर

 डिजिटल मल्टीमीटर  - Digital Multi meter :

 विद्युत दोष निवारण हेतु डिजिटल मीटर इलेक्ट्रिक सिक्रेटपर निश्चित है। डिजिटल मीटर दोष निवारण हेतु अच्छा performance देता है। डिजिटल मीटर सिर्फ एक संख्यात्मक मूल्य में माप प्रदर्शित करता है। सभी मीटर परिणामी सर्किट या जांच किए हुए भागो के संपर्क में होते है। लिड्स का  संपर्क हर समय मीटर के साथ जुड़ा हो शकता है या अलग अलग उपयोग के लिए विभिन्न सॉकेट मे प्लगिंग कर शकते है। जब किसी समय आप सर्किट में Voltage व Current Measure करते है तो निश्चित कीजिए की मीटर ने सर्किट के साथ संबंध बनाए। एक लिड संभवतः Positive ( + ) टर्मिनल के लिए लाल कलर होता है और सर्किट के Positive साइड जोड़ा होता है। दूसरे भाग में संभवतः Negative ( - ) टर्मिनल के लिए काला होता है और वह सर्किट के Negative साइड जोड़ा होता है।
How to use Multi Meter
यह आर्टीकल जरूर पढ़े.........
AUTOMOBILE  TECHNOLOGY  
   NATURE (  प्रकुर्ती  )

मल्टीमीटर के माध्यम से विभिन्न परीक्षण प्रक्रिया - Various testing procedures through multi-meter :

व्होल्टेज टेस्ट :

मल्टीमीटर एक ऐसा इलेक्ट्रिक डिव्हाईस है जो AC और DC व्हॉल्टेज Measure कर शकता है। अब आपके मन में कुछ सवाल आये होंगे की AC और DC व्होल्टेज क्या है।  हम आपको बता दे की जो विद्युत प्रवाह बैटरी के संपर्क  निर्माण हुआ वह DC Current और जो विद्युत प्रवाह महावितरण विभाग से है याने ट्रांसफॉर्मर से आता है वह AC व्होल्टेज है। मल्टीमीटर सभी प्रकार के विद्युत current की जांच कर शकता है। Automobile विभाग में सर्किट Measure करने के लिए DC स्विच निश्चित कीजिए। किसी भी बैटरी या अन्य Automobile उपकरणों की जांच करना है तो मल्टीमीटर DC में सेट कीजिए।


For Example :
How to use Multi Meter


✠  किसी बैटरी केस का व्होल्टेज Measure करना है तो प्रथम मल्टीमीटर को DC पर सेट कीजिए।

✠  अब Positive ( लाल ) प्रोब और निगेटिव ( काला ) प्रोब जोड़े।

✠  लाल प्रोब मल्टीमीटर के किसी भी measure यूनिट में लगाए ,जैसे Volt ( V )

✠  और काला प्रोब Com में लगाए।

✠  अब बैटरी टर्मिनल को मल्टीमीटर के प्रोब से जोड़े और डिजिटल मल्टीमीटर के डिसप्ले में व्होल्टेज रीडिंग जाने।


Ammeter Test  - एमिटर परीक्षण :

सर्किट में मल्टी मीटर प्रोब कनेक्ट करने से पहले Expected range ( अपेक्षित सीमा ) निश्चित कीजिए। याने मल्टीमीटर  माध्यम  एमिटर परीक्षण आसानी से  सके।

एमिटर परीक्षण के तीन महत्वपूर्ण नियम -

❖  यदि मीटर परिचलन नहीं है तो सर्किट खुलता है और सर्किट जारी नहीं होता।

❖  यदि मीटर कम है तो सर्किट भरा हुआ है लेकिन एक उच्च प्रतिरोध है।

❖  यदि मीटर उच्च वर्तमान दिखाता है, तो कुछ सामान्य प्रतिरोध मिट्टी या शॉर्ट सर्किट के माध्यम से रखा
      जाता है, आदि।

ओहममीटर टेस्ट - Ohmmeter Test :

ओहममीटर बैटरी द्वारा समर्पित है, इसलिए परीक्षण सर्किट की शक्ति को डिस्कनेक्ट करना आवश्यक है। ओहमोमीटर को जोड़कर, सर्किट भाग के समानांतर में खुली या उच्च प्रतिरोध शक्ति खोजना संभव है। अगर मीटर अनंत की पढ़ाई दिखाता है, तो इसका मतलब है कि मीटर चयनित पैमाने पर पढ़ सकता है। शून्य से, इसका मतलब है कि सर्किट के बीच कोई संघर्ष नहीं है, जिसे प्रतिरोध दिखाया जा सकता है।



यह भी जरुर पढ़े

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

हमें ट्विटर पर फॉलो करे

Popular Posts

नए लेख पाने के लिए अपना ईमेल यहाँ Free Submit करें