Tuesday, 19 June 2018

ट्रांसफार्मर कैसे काम करता है - how does transformer work

नमष्कार दोस्तों Apnasandesh.com में आपका स्वागत है। दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से Transformer के बारे में जानने वाले है। Transformer का उपयोग , Transformer के प्रकार , आदि। दोस्तों आप सभी ने अपने घर में इलेक्ट्रिक करंट ( विद्युत प्रवाह ) का उपयोग किया है। लेकिन क्या कभी सोचा की यह इलेक्ट्रिक करंट आपके घर Transformer के माध्यम से आता है। चलिए आगे इसके बारे में जानते है।
Transformer - ( ट्रांसफार्मर ) कैसे काम करता है - how does transformer work

Transformer - ( ट्रांसफार्मर ) कैसे काम करता है - how does transformer work :

ट्रांसफार्मर यह एक स्थिर विद्युत उपकरण है। की जहा दो Conductor Coils आयरन कोअर में एक विशिष्ट दुरी पर होते है। इस दो Coil में से एक Coil ( Primary ) AC supply को दिया होता है इसलिए इस Coil के Surrounding में Magnetic Force निर्माण होता है। यह Force दूसरे Secondary Coil को Connect करता है। इसलिए वहां EMF ( Electromagnetic Force ) निर्माण होता है।


Transformer - ट्रांसफार्मर  का कार्य :

■  विद्युत सर्किट में विद्युत प्रवाह के व्होल्टेज , Frequency ( आवृत्ति ), पावर, आदि जगह में कोई बदलाव
     ना करके पॉवर बढ़ाना।

■  Transformer से दिए हुए आवृत्ति और पॉवर में कोई बदलाव ना करके व्होल्टेज कम या ज्यादा करना।

■  Transformer एक सर्किट Coil से दूसरे सर्किट Coil में व्होल्टेज व पॉवर Transfer करता है।

Transformer - ( ट्रांसफार्मर ) कैसे काम करता है - how does transformer work

Transformer - ट्रांसफार्मर के प्रकार :

Transformer - ( ट्रांसफार्मर ) कैसे काम करता है - how does transformer work

Step Up Transformer के माध्यम से व्होल्टेज को बढ़ाया जाता है। जिस Transformer में Primary वाइंडिंग में दिए हुए व्होल्टेज से Secondary वाइंडिंग में व्होल्टेज ज्यादा निर्माण होता है उसे Step Up Transformer जानते है। Step Up Transformer में Primary वाइंडिंग की तार की जाड़ी बड़ी होती है और Secondary वाइंडिंग की तार की जाडी बारीक़ होती है। Step Up Transformer की दोनों वाइंडिंग L टाइप , E टाइप , और I टाइप स्टॉपिंग कोअर की बनी हुई होती है। 
Transformer - ( ट्रांसफार्मर ) कैसे काम करता है - how does transformer work

Step Out Transformer :

व्होल्टेज कम करने के लिए Step Out Transformer का उपयोग किया जाता है। इस Step Out Transformer में Primary वाइंडिंग को व्होल्टेज ज्यादा और Secondary वाइंडिंग को व्होल्टेज कम मिलता है। इस Transformer में Primary वाइंडिंग तार की कोटिंग बारीक़ और Secondary वाइंडिंग तार की कोटिंग जाडी होती है।
Transformer - ( ट्रांसफार्मर ) कैसे काम करता है - how does transformer work

पॉवर Transformer :

इस Transformer का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक उपकरणोंमे AC Power supply के लिए होता है। इस Transformer में एक Primary वाइंडिंग और दो या तीन Secondary वाइंडिंग होती है। कुछ Transformer में Secondary वाइंडिंग की दो तार बाहर की तरफ होती और वह निगेटिव के तहत जाना जाता। और कुछ Transformer में तीनो Wire बाहर होते है।

ऑटो Transformer :

इस Transformer का उपयोग इलेक्ट्रॉनिक उपकरण , थ्री फेस मोटर के स्टार्टर ,और व्होल्टेज स्टैबिलाइझर के नियंत्रण के लिए होता है। इस Transformer में एक ही वाइंडिंग होती है जो वाइंडिंग की टॉपिंग कर एक भाग Primary वाइंडिंग को और दूसरा भाग Secondary वाइंडिंग के उपयोग में आता है।

ऑडिओ Frequency Transformer :

जिस इलेक्ट्रॉनिक Device में Sound System होता है उस Device में ऑडिओ Transformer का उपयोग होता है।

रेडिओ Frequency Transformer :

जिस उपकरण में High frequency ( उच्च आवृत्ति ) निर्माण होती है उस उपकरण में Radio Frequency Transformer उपयोग होता है।

इंटरमीडिएट Frequency Transformer :

ऑडिओ और रेडिओ फ्रीक्वेंसी का मतलब इंटरमीडिएट Frequency Transformer है। इस उपकरण का उपयोग टीवी या रेडिओ में होता है।



Transformer के कुछ अन्य महत्वपूर्ण टर्म्स :-

►  Induced Voltage
►  Self Induction
►  Mutual Induction
यह भी जरुर पढ़े

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

हमें ट्विटर पर फॉलो करे

Popular Posts

हमें Email पर Follow करे