Saturday, 15 September 2018

कंप्यूटर नेटवर्क की दुनिया - World of computer network

दुनिया बनी , कई युग बने और हर युग में Invention होते गए। इस समय में भी कुछ आविष्कार हुए और यह आविष्कार इंसान ने किए। इसीलिए इंसान को भुद्धिमान प्राणी बताया है। लेकिन कुछ बाते है जो इंसान के भी आगे वह है Machine जो मानव निर्मित है। ऐसे ही युग में हम जी रहे है लेकिन Machine की परिभाषा नहीं जानते। दोस्तों इस मसनरी दुनिया में Computer और Computer Network के बारे में इस आर्टिकल के माध्यम से जानते है।
कंप्यूटर नेटवर्क की दुनिया - World of computer network

कंप्यूटर नेटवर्क की दुनिया - Computer Network

कंप्यूटर नेटवर्क की परिभाषा कुछ इस तरह हो सकती है की एक या एक से अधिक कंप्यूटर जो अपने आप से कनेक्ट होते है या संपर्क बनाते है उसे हम '' Network ''  कह शकते है। Technical शब्दों में इसे '' Data Transmission '' भी कह शकते है। क्युकी Online के युग में किसी भी जानकारी का आदान प्रदान Computer Network से होता है। आदान प्रदान दो घटको के आधार पर निर्भर है। एक सेकंद में कितने Bite भेजे , इसके आधार पर Data Transfer की Speed गिनी जाती है। या एक सेकंद में कितना Data भेजा गया , इस आधार पर Bite निश्चित किया जाता है। या Data Transmission serial, Parallel, simplex, half duplex,  आदि विविध्द प्रकार होते है।


Network System में Data  एक एक शब्द , जिस तरह एकसमान गट या गटो का संच याने Pocket जैसा तैयार करके उसे अलग अलग सिस्टम से Transfer करना होता है। कुछ अन्य प्रकार की सामान्य गतिविधिओ का इस्तेमाल कर Computer Network का उपयोग किया जाता है। जैसे,

लिनिअर - Linier  ➠  इस System में एक समान सभी computer वायर ( Cable ) के जरिये से एक दूसरे से Connect किये जाते है।

रिंग - Ring  ➠  इस System में Circular System से कंप्यूटर Connect किये जाते है , पहला और आखरी Computer एक दूसरे से Connect होते है।

स्टार - Star  ➠  Main Computer जिसे सर्व्हर ( server ) के नाम से भी जानते है। यह Computer Center में होता है और सभी Computer इस एक Computer से Connect किय जाते है।

ट्री - Tree  ➠  जिस तरह पेड़ की डालिया फ़ैल जाती है उसी तरह इस System में एक Server कई प्रकार के Server से Connect होता है और फ़ैल जाता है।

मेश - Mesh  ➠  सभी Computer एक दूसरे से Cable के माध्यम से Connect होते है।

हायब्रिड - Hybrid  ➠  ऊपरी System से यह System एक या दो घटको से काम करती है।

⍟ वाहन चलाने के नियम, पंजीकरण और ड्रायविंग लाइसेंस
⍟ Rain Gage बनाने के आसान तरीके
⍟ रस्ता सुरक्षा का महत्व
⍟ सौर ऊर्जा का महत्व

किसी भी प्रकार का Network रहे , उसकी पहचान एक ही क्रम से होती है। Network में किसी Information का आदान प्रदान सावधानी से होने के लिए नियमावली की कल्पना अमेरिका के '' अड़व्हान्स रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी '' ( ARPA ) ने रखी। कंप्यूटर Network में अन्य प्रकार के मुलभुत घटको की आवश्यकत: होनी जरुरी है।

➦ सम्पर्कमाध्य्म या डाटा ट्रांसमिशन लाइन,
➦ मोडेम या डिजिटल सिग्नल यूनिट,
➦ मोडेम या कंप्यूटर जोड़नी यंत्र,
➦ संपर्क प्रोग्राम्स, आदि।


Computer Network टेलीफोन लाइन , इंटरनेट केबल , वायरलेस कनेक्शन आदि के माध्यम से जोड़ा जाता है। इस कनेक्शन को अन्य तीन प्रकार के केबल का इस्तेमाल होता है। अनशील्डेड व्दिस्टेड पेपर ( UTP ) कोएक्सिअल केबल और फायबर ऑप्टिक केबल। जैसे इन उपकरणों का इस्तेमाल नेटवर्क में होता है उसी तरह और भी उपकरणों का उपयोग होता है। जैसे,

Hub - हब ⇒  ज्यादा से ज्यादा Computer को Connect करने का काम हब करता है।

Router - राउटर ⇒  इस यंत्र के माध्यम से Network के Information को निश्चित किए हुए कंप्यूटर में जल्द से जल्द पहुंचाने का काम होता है।

Bridge - ब्रिज ⇒  यह एक प्रकार का माहिती विभागणी यंत्र है जो आवश्यक और अनावश्यक ऐसे दोनों काम करता है।

Repeater - रिपीटर ⇒  किसी भी दो कंप्यूटर के बिच 200 मीटर से अधिक डिस्टेंस होगा वहा रिपीटर का उपयोग होता है।

⍟ ऑटोमोबाइल वाहन की नई तकनीक और विकास
⍟ वाहनों को इंसानी दिमाग से कैसे चलाए
⍟ अपने आप इंजिन ऑइल कैसे बदले
⍟ इलेक्ट्रिक पंप की मूल जानकारी

नेटवर्क के Controlling के लिए अलग अलग नियमावली या प्रोटोकॉल कार्य करने के लिए मदत करती है। Transmission Control Protocol ( TCP ), Fine Transfer Protocol ( FTP ), Hyper Tech Test Protocol ( HTTP ), इस प्रकार नियमावली होती है।


Network क्या है - What Is Network ?

Network की परिभाषा तो जानते ही है, जो एक या एक से अधिक Computer आपस में Connect होते है। Network Wireless भी हो शकता है, जिसके माध्यम से Information Share की जा शकती है। इस हम अपनी परिभाषा में Network का नाम दे शकते है। Network Wireless के जरिए से भी इस्तेमाल होता है, जैसे Radio Wave, Bluetooth, Satellite, आदि।

Network के प्रकार - Type Of Network 

वैसे तो कंप्यूटर नेटवर्क कई प्रकर के होते है। लेकिन आम तौर पर 3 प्रकार के नेटवर्क सबसे ज्यादा इस्तेमाल होते है - MAN , LAN और WAN इसके बावजूद HAN , PAN इन प्रकार का भी उपयोग नेटवर्क में होता है।
कंप्यूटर नेटवर्क की दुनिया - World of computer network

Metropolitan Area Network ( MAN ) 

यह एक प्रकार का नेटवर्क है जो शहर में छोटे या बड़े College, School, या Office के नेटवर्क को जोड़के रखता है। इस Network को College Campus में अगर इस्तेमाल करते है तो उसे Campus Area Network कह सकते है। यह एक बड़ा नेटवर्क है जो Business Organization Office में उपयोग कर सकते है।

⍟ Investment के बिना ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए
चमत्कारी सौंफ़ के फायदे जो बदले जीवन 
दिल को छूने वाली कहाणी अरुणिमा की


Local Area Network ( LAN )

इस प्रकार का नेटवर्क College , School , Office , Document Printing आदि जगह पर उपयोग होता है। इसे बनाने के लिए कुछ Hard-work नहीं है बस Hub , Switch , Router और Cable आदि की जरुरत होती है। इस नेटवर्क को केबल के जरिए से Use कर शकते है लेकिन अभी के ज़माने में यह नेटवर्क Wireless भी हो चूका है। इस नेटवर्क में कम खर्चे अच्छी Speed और Security मिलती है।

Wide Area Network ( WAN )

Wide Area Network वैसे तो सबसे बड़ा नेटवर्क है जो पुरे Globe के Computer को Connect करके रखता है। LAN और MAN से बड़ा नेटवर्क WAN है इसका अच्छा उदाहरण Internet है जो दूर दूर तक फैला है। WAN सबसे Costly Network है जो SONET , ATM में Use होता है। WAN के जरिए Network की सुविधा देने वाले Company को Network server provider  नाम से जानते है।


यह भी जरुर पढ़े 

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

Popular Posts