Tuesday, 25 December 2018

कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer

नमस्कार दोस्तों, apnasandesh.com में आप सभी का स्वागत है। दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में कंप्यूटर के कुछ महत्वपूर्ण कार्य के बारे में जानकारी प्राप्त करने जा रहे है। 

कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer

वर्तमान समय में सूचना संचार तकनीक ( Computer ) बहुत महत्वपूर्ण है। आज की पूरी दुनिया कंप्यूटर के माध्यम से एक दूसरे से जुडी हुई है। आज सभी क्षेत्रों में कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है। इसलिए, कंप्यूटर मानव जीवन का एक अभिन्न अंग बन गए हैं। लेकिन अब यह तय है कि उनमें प्रगति होगी। फिर Technology के इस युग में हम क्यों पीछे रहे ? Computer के युग में इसके बारे में मालूमात होनी जरुरी है। पहले कंप्यूटर के बारे में बहुत संदेह था, लेकिन यह संदेह पूरी तरह धीरे-धीरे नष्ट हो रहा है और यह सभी क्षेत्रों में काम कर रहा है।


कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer

कंप्यूटर की व्याख्या :

अंग्रजी में Calculate इस शब्द का अर्थ गणना करना या गिनना होता है। Calculate याने Sum, subtraction, multiplication, division आदि अंकगणितिय क्रिया है। इसके सिद्धांतो के आधार पर गणन यंत्र की व्याख्या बनाई गई है।

'' Computer is a machine that can be Programmed to manipulate symbols.'' कंप्यूटर एक ऐसी मशीन है जिसे प्रतीकों में हेरफेर करने के लिए प्रोग्राम किया जा सकता है।

कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer

'' Computer is an electronic device which has an International storage, store programs and can perform arithmetic as well as logical operation.'' कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसमें एक अंतर्राष्ट्रीय भंडारण, स्टोर प्रोग्राम और यह अंकगणित के साथ-साथ तार्किक संचालन भी कर सकता है।            ( ऑक्सफर्ड अंग्रेजी शब्दकोश )

कंप्यूटर यह बिजली पर चलने वाला इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है, जिसमे जानकारी को सहेजा जाता है।

कंप्यूटर की विशेषताएं - Characteristics of Computer :

कंप्यूटर की विशेषताओ के बारे में बात करे तो एक भंडार है। जिसमे कई विशेष गुणों का संचार है, जानकारी प्राप्त करना, जानकारी आदान प्रदान करना, Accuracy, Memory, जानकारी को सहेजा जाना आदि जैसे काम अब कंप्यूटर के विशेताओं में आते है।

Speed ( गति ) :

कंप्यूटर को दिए हुए कार्य को करने के लिए लगने वाला समय याने कंप्यूटर की गति मानी जाती है। कंप्यूटर का यह Speed माइक्रो सेकंड में गिना जाता है, लेकिन वर्तमान में गति पिकोसेकंड, नैनोसेकंड से बढ़ जाती है।
➣ 1 microsecond :- एक सेकंड के एक दसलक्ष का भाग।
➣ 1 Nanosecond :- एक सेकंड के एक सहस्त्रदसलक्ष का भाग।
➣ 1 Pinko second :- एक सेकंड के एक दशसहस्त्र दसलक्ष का भाग।

Memory ( स्मृति ) :

कंप्यूटर में सबसे महत्वपूर्ण घटक याने कंप्यूटर मेमोरी, जिसके माध्यम से किसी भी जानकारी को सहेजा जाता है और जरुरत पड़ने पर उस जानकारी को आदान प्रदान भी कर सकते है।

Automation ( स्वचालन ) :

कंप्यूटर यह एक automation यंत्र है, जिसमे सभी काम करने की क्षमता है। यह एक इलेक्ट्रॉनिक यंत्र है, जिसके कारण अगर बिजली का पावर बंद हो जाये तो यह प्रणाली काम करना छोड़ देती है।


Communication ( संचार ) :

कंप्यूटर का संचार माध्यम अधिक पॉवरफ़ुल होने के कारण यह किसी प्रकार के जानकारी को किसी भी समय प्राप्त कर सकता है। इसलिए इसे यांत्रिकी अविष्कारों में सबसे महत्वपूर्ण बड़ा आविष्कार मन जाता है।

Continuity ( निरंतरता ) :

कंप्यूटर की विशेषता है की, यह कभी थकता नहीं, ना कभी रुकता, ना कभी आलस दिखता है। इसीलिए इसके वजह से कई सारे काम कुछ मिनटों में ही पुरे हो जाता है।

Versatility ( बहुविज्ञता ) :

कंप्यूटर पर किसी भी प्रकार की जानकारी आदान प्रदान की जा सकती है। सिर्फ उसके लिए आवश्यक सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर की जरुरत है।

कंप्यूटर के प्रकार - Types of computers :

टेक्नोलॉजी के युग में आये दिन विकास हो रहे है, आज के युग में हर प्रकार के आविष्कार देखने मिलते है। ए.बी.एम. कंपनी के जनक हेरमन हॉलिरेथ ने सन 1950 वर्ष में पहले कंप्यूटर का आविष्कार किया। पुराने रेडिओ जैसे, इसमें व्हॉल्व का इस्तेमाल किया गया था, इसका साइज बड़ा और किंमत भी अधिक थी। कुछ समय बाद सन 1960 में कंप्यूटर में ट्रांजिस्टर का इस्तेमाल किया गया, जिसमें पुराने कंप्यूटर से अधिक speed और गुणवत्ता बधाई गई। इस प्रकार हर एक Generation में कंप्यूटर का विकास होते गया।
कंप्यूटर के मुख्य तीन प्रकार है :

✫ डिजिटल कंप्यूटर - Digital computer
✫ एनालॉग कंप्यूटर - Analog computer
✫ हाइब्रिड कंप्यूटर - Hybrid computer

डिजिटल कंप्यूटर - Digital computer :

इस प्रकार के कंप्यूटर में द्विमान सिस्टम से जानकारी को प्रदान करते है। द्विमान प्रणाली को मुख्य दो रूप से पाया होता है, याने इसमें सिर्फ 0 to 1 यह दो नंबर उपयोग में आते है। इसलिए इस प्रकार के कंप्यूटर की किंमत मार्केट में दूसरे कंप्यूटर की तुलना में अधिक है। आज के युग में अधिकतर कंप्यूटर अंकाधिष्ठित या डिजिटल रूप में पाए जाते है।

एनालॉग कंप्यूटर - Analog computer :

इस प्रकार के कंप्यूटर में Memory व Speed नहीं पाई जाती है। इस प्रकार के कंप्यूटर का उपयोग विद्युत् रोधक संख्या का प्रदर्शन के लिए किया जाता है। उदा. गणन करने के लिए मेटल के गणन यंत्र, जिसपर गणन करने के बाद आकड़े दर्साय जाते है या गति को Measured करने के लिए स्पीडोमीटर का उपयोग किया जाता है।

हाइब्रिड कंप्यूटर - Hybrid computer :

इस प्रकार का कंप्यूटर यह Digital computer और Analog computer के सिद्धांतो का एक उदहारण है, एवं यह कंप्यूटर डिजिटल और एनालॉग कंप्यूटर के तत्वों का उपयोग कर मार्केट में लॉन्च किया गया है। इस प्रकार के कंप्यूटर का उपयोग रोबोट तथा यांत्रिकी क्षेत्रों में किया जाता है।

कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer


कंप्यूटर के अन्य प्रकार - Other types of computers :

✦ Personal Computer
✦ Laptop
✦ P.D.A. ( Personal Digital Assistant )
✦ Micro Computer
✦ Mini Computer
✦ Main Frame Computer
✦ Super Computer

Personal Computer ( व्यक्तिगत कंप्यूटर ) :

इस प्रकार के कंप्यूटर की प्रथम निर्मिति सन 1970 में हुई थी। व्यक्तिगत कंप्यूटर को Apple एवं IBM जैसे बड़ी कम्पनी ने सन 1981 के कालावधि में मार्केट में लॉन्च किया था। लेकिन इस प्रकार के कंप्यूटर पर सिर्फ एक ही व्यक्ति काम कर सकता था। व्यक्तिगत कंप्यूटर की बनावट घरेलू उपयोग के हिसाब से बनाई गई थी।

Laptop ( लैपटॉप ) :

इस प्रकार के सिस्टिम की बनावट हमारे पढाई के नेटबुक इतनी है, लेकिन इस प्रकार के कंप्यूटर में मॉनिटर या पडदे का इस्तेमाल हुआ है। इस प्रकार के Laptop की किंमत PC के तुलना में अधिक होती है, हा लेकिन इस कंप्यूटर कार्यक्षमता उतनी ही पाई जाती है।

P.D.A. ( Personal Digital Assistant ) :

इस प्रकार का सिस्टिम वजन से हल्का और आकार से छोटा होने के कारण इस यंत्र प्रणाली का उपयोग अपने निजी कामो के लिए किया जाता है। या समय के अवसरों को देखते हुए इसका उपयोग इंटरनेट या अन्य यंत्र से कार्य करने के लिए होता है।

Micro Computer ( माइक्रो कंप्यूटर ) :

एक माइक्रो कंप्यूटर अपेक्षाकृत एक सस्ता कंप्यूटर है जिसमें माइक्रोप्रोसेसर अपनी केंद्रीय प्रसंस्करण इकाई (CPU) में होता है। इसमें एक माइक्रोप्रोसेसर, मेमोरी और न्यूनतम इनपुट/आउटपुट शामिल है जो मुद्रित सर्किट बोर्ड पर लगे होते हैं। माइक्रो कंप्यूटर शक्तिशाली माइक्रोप्रोसेसर के आगमन के साथ तेजी से लोकप्रिय हो गए। इन में से सबसे अधिक महत्वपूर्ण कंप्यूटर Desktop Computer है।

Mini Computer ( मिनी कंप्यूटर ) :

इस प्रकार के कंप्यूटर माइक्रो कंप्यूटर से अधिक शक्तिशाली होते है। इसीलिए इसपर एक से अधिक लोग कार्य कर सकते है। इस कंप्यूटर का उपयोग अधिकतर नेटवर्क और जानकारी सहजने के लिए किया जाता है। उदा. ग्रंथालय, वित्तसंस्था आदि।

Tags :- Technology, Technical Study, Online job, Future Tech, Internet, Online Study, Computer, Health, Science, Fashion, Design.

संबंधित कीवर्ड:
कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer, कंप्यूटर की व्याख्या, कंप्यूटर की विशेषताएं - Characteristics of Computer, कंप्यूटर के प्रकार - Types of computers, कंप्यूटर के अन्य प्रकार - Other types of computers.


दोस्तों, उम्मीद है की आपको कंप्यूटर के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी - Information about important tasks of computer यह आर्टिकल पसंद आया होगा। यदि आपको यह आर्टिकल उपयोगी लगता है, तो निश्चित रूप से इस लेख को आप अपने दोस्तों एवं परिचितों के साथ साझा करें। और ऐसे ही रोचक आर्टिकल की जानकारी प्राप्ति के लिए हमसे जुड़े रहे और अपना Knowledge बढ़ाते रहे।

धन्यवाद।

यह भी जरुर पढ़े 

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

Popular Posts