Saturday, 5 January 2019

प्रोटीन का फायदा शरीर को कैसे मिलेगा - How to get protein from the body

नमस्कार दोस्तों, apnasandesh.com में आप सभी का स्वागत है। आज के इस लेख में हम पढ़ेंगे की प्रोटीन का फायदा हमारे शरीर को कैसे मिलता है।

प्रोटीन का फायदा शरीर को कैसे मिलेगा - How to get protein from the body

दोस्तों हमारा शरीर सशक्त रहेगा तो हम जीबन में कोई भी काम कर सकते है और तरक्की कर सकते है। इसीलिए हमें हमारे शरीर का विशेष ध्यान रखना चाहिए। तो आइये दोस्तों जानते है की शरीर को कैसे मिलेगा प्रोटीन का फायदा और प्रोटीन के बारे में अन्य महत्वपूर्ण जानकारी जो आपके शरीर के लिए लाभकारी है।

प्रोटीन हमारे शरीर की कोशिकाओं का निर्माण करता है। पानी को छोड़कर शरीर के हर तत्व का निर्माण प्रोटीन से ही होता है, मानव शरीर में प्रोटीन की कमी से शारीरिक एवं मानसिक विकास रुक जाता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है। 



प्रोटीन में लगभग 18 से २० प्रकार के अमीनो अम्ल होते है, जिनमे 9 का ही खास महत्व है। जिन्हे भोजन द्वारा ही प्राप्त किया जा सकता है। 9 में से शेष बचे अमीनो अम्लों का उत्पादन शरीर में ही होता है। दूध जैसे आहार में उपस्थित प्रोटीन का मनुष्य द्वारा उपयोग किया जा सकता है। जबकि चावल और गेहू जैसे शाकाहारी खाद्य पदार्थो का प्रोटीन कम रूप से ही उपयोग होता है।

प्रोटीन का फायदा शरीर को कैसे मिलेगा - How to get protein from the body : 

सवाल पैदा होता है की प्रतिदिन खाये जाने वाले भोजन में प्रोटीन कैसे प्राप्त की जाए ? क्योकि भोजन को प्रोटीन युक्त बनाने के लिए हम काफी पैसा खर्च करते है या प्रोटीनयुक्त आहार का हम पूरा फायदा भी नहीं ले पाते। 

अक्सर प्रोटीन का उपयोग नई कोशिकाओं के निर्माण की बजाय शरीर में ऊर्जा के उत्पादन के लिए ही हो जाता है। ऐसा तब होता है जब शरीर को ऊर्जा देने वाले पौष्टिक तत्व जैसे कार्बोहाइड्रेड, शरीर को पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल पाते। इनके अभाव में शरीर अपने रोज की जिंदगी के लिए आवश्यक ऊर्जा प्रोटीन से ही प्राप्त करता है। यानि कार्बोहाइड्रेड की कमी प्रोटीन पूरा कर सकता है।

जब प्रोटीन की कमी हो जाये - When protein deficiency :

शरीर में अगर प्रोटीन की कमी हो तो कोई दूसरा पोषक तत्व उसकी कमी को पूरा नहीं कर सकता। इसलिए अच्छा यही है की प्रोटीन को हम अपना काम करने दे। शरीर में प्रोटीन की आपूर्ति के लिए भोजन में ऊर्जा देने वाले अन्य खाद्य पदार्थ जैसे गेहू, चावल, तेल, सब्जी आदि भोजम में ज्यादा से ज्यादा शामिल करें ताकि शरीर में ऊर्जा की कमी ना रहे। 



कई लोग शरीर में प्रोटीन की आपूर्ति के लिए ज्यादा प्रोटीनयुक्त आहार का सेवन करते है। जबकि शरीर की प्रोटीन संगहित करने की क्षमता सिमित है। जो प्रोटीन भोजन द्वारा शरीर में प्रवेश करती है, उसका विघटन अमीनो अम्लों में हो जाता है, और जीतनी हमारे शरीर को जरुरत होती है, उन्हें ग्रहण कर लेने के बाद उसे मूत्र में विसर्जित कर देता है। यानि हमारे भोजन से प्राप्त होने वाली प्रोटीन की अतिरिक्त मात्रा बेकार हो जाती है। और यह मूत्र के जरिये शरीर से बाहर निकल जाती है, ऐसे में हमारी किडनी को भी ज्यादा काम करना पड़ता है।

प्रोटीन और सावधानिया - Protein and Precaution :

प्रोटीन का कुछ हिस्सा परिवर्तित होकर त्वचा के निचले हिस्से पर जमा हो जाता है, जो ह्रदय रोग का भी कारण हो सकता है। हम भोजन से प्राप्त प्रोटीन का अधिकाधिक उपयोग कर सकें, इसके लिए हमे अपने रोज के आहार में इस तहर के खाद्य पदार्थो को शामिल करना चाहिए जो प्रोटीन की कमी को पूरा कर सकते है। 

शाकाहारी लोग गेहू, चावल के साथ दाल, तिल, मूंगफली और दूसरे मेवों का भी इस्तेमाल करें। यह सभी खाद्य पदार्थ एक दूसरे के पूरक होते है। इस खाद्य पदार्थो के साथ थोड़ी थोड़ी मात्रा में दूध दही या दूध से बने पदार्थो का सेवन करके प्रोटीन प्राप्त कर सकते है। 

जो लोग मासाहारी है, उन्हें काम मात्रा में बार बार खाना चाहिए क्योकि की शरीर में प्रोटीन की संग्रहण क्षमता कम होने के कारण एक ही बार में जयदा प्रोटीन बेकार हो जाता है। थोड़ी थोड़ी मात्रा में प्रोटीनयुक्त भोजन उपयोगी होने के साथ साथ प्रोटीन की गुणवत्ता को भी बढ़ाता है। 


मासाहार यानि जीवजंतु, प्रोटीन की मात्रा शरीर में बढ़ने में अमीनो अम्लों के कारण खून में कोलोस्ट्रोल की मात्रा भी बढ़ जाती है। जिससे दिल की बीमारी होने के खतरे बढ़ जाते है।

प्रोटीन का फायदा शरीर को कैसे मिलेगा - How to get protein from the body

प्रोटीन को कैसे रखे सुरक्षित - How to keep proteins safe :

भोजन में प्रोटीन तत्वों को सुरक्षित रखने के लिए उसे तापमान पर पकाना चाहिए। क्योकि तापमान का प्रभाव प्रोटीन पर भी पड़ता है। मासाहार को धीमी या माध्यम आंच पर पकाना चाहिए, इससे उनमे मौजूद प्रोटीन नरम हो जाते है। अगर उसे तेज आंच पर ज्यादा देर तक पकाया जाता है तो उसकी प्रोटीन सक्त होने के कारण जल्दी पचते नहीं है। मासाहार पकाते समय आंच बढ़ाने की बजाय उसको धीरे धीरे पकाना चाहिए क्योकि इससे मनुष्य में मौजूद प्रोटीन की मात्रा स्थिर होकर रहती है। 

Tags :- Technology, Technical Study, Online job, Future Tech, Internet, Online Study, Computer, Health, Science, Fashion, Design, Solar System.

संबंधित कीवर्ड :

प्रोटीन का फायदा शरीर को कैसे मिलेगा - How to get protein from the body, जब प्रोटीन की कमी हो जाये - When protein deficiency, प्रोटीन को कैसे रखे सुरक्षित - How to keep proteins safe, प्रोटीन और सावधानिया - Protein and Precaution.



दोस्तों, उम्मीद है की आपको प्रोटीन का फायदा शरीर को कैसे मिलेगा - How to get protein from the body यह आर्टिकल पसंद आया होगा। यदि आपको यह आर्टिकल उपयोगी लगता है, तो निश्चित रूप से इस लेख को आप अपने दोस्तों एवं परिचितों के साथ साझा करें। और ऐसे ही रोचक आर्टिकल की जानकारी प्राप्ति के लिए हमसे जुड़े रहे और अपना Knowledge बढ़ाते रहे।

धन्यवाद।                                                                                                         
                                                                                                                  Author By : टेकचंद sir... 
यह भी जरुर पढ़े 

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

Popular Posts