Monday, 10 June 2019

पेचकस का उपयोग कैसे करे - How to use screwdriver

नमस्कार दोस्तों apnasandesh.com में आप सभी का हार्दिक स्वागत करते है, आज के लेख में हम आपको पेचकस याने Screwdriver के बारे में विस्तृत जानकारी देने जा रहे है,

पेचकस का उपयोग कैसे करे - How to use screwdriver

Screwdriver का उपयोग कैसे करे, स्क्रू ड्राईवर का उपयोग कैसे करे, पेचकस का उपयोग कैसे करे - How to use screwdriver, पेचकस किसे कहते है - Who is the screwdriver, पेचकस का रखरखाव कैसे करे - How to maintain a screwdriver, पेचकस का परिचय - Introduction to screwdriver, स्क्रूड्राइवर कितने प्रकार के होते हैं - How many types of screwdriver are, इंजिनीअरिंग वर्क शॉप में पेचकस का उपयोग - Use of screwdriver in the engineering work shop, पेचकस क्या है - What is the screwdriver सभी जानकारी हिंदी में.


पेचकस का उपयोग कैसे करे - How to use screwdriver :-

पेचकस का परिचय - Introduction to screwdriver :- 

दोस्तों आप जानते ही होंगे की पेचकस का उपयोग हर क्षेत्र में किया जाता है. छोटे बड़े स्क्रू को खोलने और कसने के लिए अधिकतर पेचकस का इस्तेमाल करते है. यह स्टील कार्बन का बना होता है. पेचकस को तिन भागो मे विस्तारित क्या है,

☘ पहिला भाग हैंडल (handle)
☘ दूसरा भाग शेंक (shank) और
☘ तीसरा भाग ब्लेड या टिप (blade or tip)

पेचकस के हैंडल लकड़ी या फिर प्लास्टिक के बने होते है. पेचकस की शेंक की लम्बाई के अनुसार ही उसके प्रकार भी अलग-अलग होते है, पेचकस का टिप हार्ड होता है, और टेम्पर भी किया जाता है क्यूकी उसका उपयोग बराबर हो सके.

पेचकस के प्रकार - TYPES OF SCREW DRIVER :-

✦ स्टैण्डर्ड पेचकस - Standard screw Driver,

✦ फिलिप्स पेचकस - philips Screw Driver,

✦ वाचमेकर पेचकस - watchmaker Screw Driver,

✦ ऑफ सेट पेचकस - off set screw driver,

✦ रेचेट पेचकस - Rachet Screw Driver,

यह भी पढ़े ☛ हैमर का उपयोग कैसे करे
यह भी पढ़े ☛ वाइस का उपयोग कैसे करे


स्टैण्डर्ड पेचकस - Standard screw Driver  :-

यह पेचकस सामान्य तरीके से होते है. स्क्रू को कसने और ढीला करने के लिए इसका उपयोग करते है. पेचकस के शेंक में एक खांचा होता है जहा पर शेंक को फिट किया जाता है और शेंक फिट होते ही पेचकस को उपयोग में लाने का काम किया जाता है. साधारण पेचकस में लगा शेंक में तिन भाग होते है, पहिला भाग निचे की और फ्लेट होता है जिससे फ्लेट स्क्रू वाले, स्क्रू को खोलने और कसने की क्रिया हो सके, दूसरा भाग राउंड होता जो की शेंक का बिच वाला हिस्सा होता है, जब भी स्क्रू को कसा या खोला जाता है तब यह भाग गोल घुमने के काम आता है, और तीसरा भाग मतलब square वाला हिस्सा होता है, जो की square स्क्रू वाले, स्क्रू को खोलने और कसने के काम आता है, इसे चार मुह वाला पेचकस भी कहा जा सकता है.

फिलिप्स पेचकस (philips Screw Driver ) :-

यह पेचकस स्टैण्डर्ड पेचकस (satndard screw driver) के तरह ही होते है. इसमें भी हेंडल शेंक और टिप होती है, लेकिन इस पेचकस में चार मुह बने होते है, जो की फिलिप्स स्क्रू को कसने और खोलने के काम में उपयोग आता है, यह भी कार्बन स्टील का बना होता है, जिसके कारन इसकी शेंक मजबूत और टिकाऊ होती है.

वाचमेकर पेचकस ( watchmaker Screw Driver ) :-

इस तरह के पेचकस वाचमेकर मतलब घडी का काम करने वालो मेकैनिक के पास होता है, यह पेचकस घडिया और दुसरे इंस्ट्रूमेंट की मरम्मत करने के काम आते है, यह आमतौर पर 6 के सेट में मिलता है, और 0 - 5 नंबर तक होते है, 0 नंबर के पेचकस का शेंक बहुत पतला होता है, वही 5 नंबर का पेचकस मोटा होता है. इनके शेक पर ऊँगली रखकर घुमाया जाता है, इसमें कभी भी तेज धार वाले टिप नहीं होते है.


ऑफ सेट पेचकस ( off set screw driver ) :-

ऑफ सेट पेचकस का उपयोग स्पेशल टूल जैसा करते है, क्युकी जहा पर साधारण पेचकस कार्य नहीं कर सकते वहा पर इस पेचकस का उपयोग किया जा सकता है. दोस्तों आपको सायद आप जानते होंगे की साधारण पेचकस दो जॉब के बिच में लगे हो उसे नहीं खोल सकता है. लेकिन इस पेचकस की मदत से उस जॉब को खोला जा सकता है, इसलिए ऑफ सेट पेचकस को स्पेशल टूल भी कहा जाता है.

रेचेट पेचकस ( Rachet Screw Driver ) :-

रेचेट पेचकस यह अधिक गति के लिए उपयोग में लाया जाता है. इस तरह के पेचकस में शेंक को इनके खांचो में फसाकर हेंडल उठाने और दबाने के काम में जल्दी से घुमया जा सकता है. और इसी घुमाव के कारण पेच जल्दी कस जाता है. रेचेट पेचकस का ब्लेड आवश्यकता नुसार बदल भी सकते है, इसमें राउंड हैण्ड , फ्लैट हैण्ड, और फिलिप्स स्क्रू को आसानी से खोला और कसा जाता है.

☛ Amazon Tools - ☚ पेचकस जैसे हात औजार तथा बिजली वाले औजार ऑनलाइन मार्केट में उपलब्ध है.


सावधानिया (safety precaution ) :-

☛ पेचकस से पेच को कसते समय जॉब को हात में नहीं पकड़ना चाहिए,

☛ पेचकस से छेनी के काम की तरह इसका उपयोग नहीं करना चाहिए,

☛ पेचकस के हैंडल के उपर कभी भी हैमर से नहीं मारना चाहिए,

☛ हैमर से मारने पर पेचकस की शेंक और टिप टूट सकती है और ख़राब भी हो जाती है,

☛ पेचकस और जॉब दोनों को एक साथ हात में पकड़कर कोई भी कार्य नहीं करना चाहिए,

☛ पेचकस को कभी भी स्लिप न होने दे अन्यथा चोट लग सकती है,

☛ पेचकस की टिप अच्छी तरह grand होनी चाहिए ताकि स्क्रू खाँचो में फस सके,

☛ तेल वाले हाथो से पेचकस का कार्य नहीं करना चाहिए,

☛ विशेष स्क्रू के लिए सही और नाप वाला पेचकस चुनना चाहिए,


यह भी पढ़े ☛ प्लायर्स का उपयोग कैसे करे
यह भी पढ़े ☛ Electrical कलर कोड का परिचय

☛ छोटा पेचकस बड़े स्क्रू पर और बड़ा पेचकस छोटे स्क्रू पर इस्तेमाल नहीं करना चाहिए,

दोस्तों, उम्मीद है की आपको पेचकस का उपयोग कैसे करे - How to use screwdriver यह आर्टिकल पसंद आया होगा. यदि आपको यह लेख उपयोगी लगता है, तो इस लेख को अपने दोस्तों और परिचितों के साथ ज़रूर साझा करें. और ऐसे ही रोचक लेखों से अवगत रहने के लिए हमसे जुड़े रहें और अपना ज्ञान बढ़ाएँ.

धन्यवाद...

हसते रहे - मुस्कुराते रहे.....

 Tags :- TechnologyTechnical Study, Online job, Future Tech, Internet, Online Study, Computer, Health, Science, Fashion, Design, Solar System, पौराणिक रहस्य, महान व्यक्तित्व.

संबंधित कीवर्ड :-
Screwdriver का उपयोग कैसे करे, How to use screwdriver, Who is the screwdriver, How to maintain a screwdriver, Introduction to screwdriver, How many types of screwdriver are, Use of screwdriver in the engineering work shop, What is the screwdriver,

                                                                                                       Author By :- Prashant Sayre Sir

यह भी जरुर पढ़े  :-

Article By

He is CEO and Founder of www.apnasandesh.com. He writes on this blog about Tech, Automobile, Technology, Education, Electrical, Nature and Stories. He do share on this blog regularly. If you want learn more about him then read About Us page

Popular Posts