रोड संकेत - Road sign - अपना संदेश - Apna Sandesh रोड संकेत - Road sign

रोड संकेत - Road sign

सड़क सुरक्षा के संकेत - Road safety signs

सिगनल यातायात को सुचारु रूप से आगे चलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सड़क पर लगे हुए सिगनल का पालन व्यवस्थित रूप से करना चाहिए, अन्यथा इन से दुर्घटना हो सकती है। इसीलिए हर एक व्यक्ति जो वाहन चलाता है या फिर रास्ते का उपयोग करता है वह in बातो से परिचित होना चाहिए, सड़क सुरक्षा के संकेत, road Sign क्या है, Road signal का उपयोग कैसे करे, road signal का परिचय, road safety signal का परिचय, सभी जानकारी हिन्दी में.

यह भी पढ़े ☛ यातायात के नए नियम 2019 - New traffic rules - road safety rules

जब दिशा के इंडिकेटर सिगनल का उपयोग नहीं किया जाता है या जब दिशा के इंडिकेटर सिगनल और स्टॉप लाइट का उपयोग जरुरी तथा अनिवार्य हो तब इसे उपयोग करे।


हाथ के संकेत  / Hand signals

Road safety signs

Road safety signs

Road safety signs

Road safety signs



 यातायात के संकेतो को मुख्य ३ श्रेणियों में बाटा गया है ।

  ➢  अनिवार्य / विनियामक संकेत - Mandatory / Regulatory Signs
  ➢  चेतावनी देने वाले संकेत - Cautionary Signs
  ➢  सूचना के संकेत   - Information Signs

Road signsRoad signs








Road signs



  विशिष्ट चेतावनी संकेत / Specific warning sign : -

दाए / बाए हाथ का संकेत :-

Road safety signs
यह संकेत तब इस्तेमाल किया जाता है जब सड़क की दिशा बदलती है।  यह संकेत वाहन चालक पहले से चेतावनी देता है की वह गति धीमी करे और सावधानी से सड़क पर आगे बढे।

दाए / बाए हेयर पिन बैंड :-

Road signs
इस संकेत का उपयोग तब किया जाता है जब दिशा में इतना बदलाव है की इसमें दिशा बदलना संभव है।  यहाँ संकेत के एलाइनमेंट पर निर्भर करते हुए दाए या बाए झुका होता है।

दाए / बाए रिवर्स बैंड :-

Road signs
इस संकेत का उपयोग तब किया जाता है जब रिवर्स बैंड का स्वरूप आने वाले यातायात के लिए स्पष्ट नहीं है और इससे खतरा होता है।  यदि पहला घुमाव दाई और है तो दाए रिवर्स बैंड का उपयोग किया जाएगा।   यदि पहला घुमाव बाई और है तो बाए रिवर्स बैंड का उपयोग किया  जाएगा।

यह आर्टीकल जरूर पढ़े.........
AUTOMOBILE  TECHNOLOGY  
   NATURE (  प्रकुर्ती  )

नैरो ब्रिज :-

Road safety signs
   
यहाँ संकेत आगे सड़क पर पुल होने पर लगाया जाता है , जहा कर्व या व्हील गार्ड के बिच की चौड़ाई सामान्य चौड़ाई से कम है।

मीडियन में गैप :-


Road safety signs
यहाँ अंतर डिवाइड किए गए रस्ते के बिच में एक अंतर के बाद एक चौराहे पे लगाया जाता है।

संकरी सड़क :-

Road safety signs
यह संकेत आम तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में लगाया जाता है , जहा रास्ते की चौड़ाई अचानक कम हो जाने से यातायात को खतरा हो सकता है।

टू वे ऑपरेशन :-

Road safety signs
यह संकेत रास्ते के यातायात के चलने में होने वाले पैटर्न के बदलाव के बारे में ड्राइवर को चेतावनी देने हेतु उपयोग किया जाता है ताकि यातायात केवल एक दिशा में जाए।

लेन बंद होना :-

Road safety signs
 इस संकेत से मल्टी लेन हाइवे पर रास्ते के एक हिस्से के बंद हो जाने पर ड्राइवर को चेतावनी दी जाती है।

सड़न साइड विंड  :-

Road safety signs
यह संकेत ड्राइवर को अचानक बगल से हवा आने के खतरे के बारे में चेतावनी देता है, जिससे यात्रियों का जीवन खतरे में पढ़ जाता है।  यह संकेत उन स्थानों पर लगाया जाता है जहा मौसम बदलते रहता है।

गार्ड रहित रेलवे क्रॉसिंग :-

Road safety signs
यह संकेत रेलवे की ऐसी क्रॉसिंग के पास वाले मार्गो पर लगाया जाता है जहा कोई गेट या बेरियर नहीं है।  एक उन्नत चेतावनी ( दो बार सहित ) २०० मीटर की  दुरी पर लगाया जाता है और दूसरा ( एक बार सहित ) क्रॉसिंग के पास लगाया जाता है।

यह आर्टीकल जरूर पढ़े.......
AUTOMOBILE  TECHNOLOGY  
 ELECTRICAL  TECHNOLOGY  

गार्ड वाली रेलवे क्रॉसिंग :-

Road safety signs

यह संकेत गार्ड वाली रेलवे क्रॉसिंग के पास वाले मार्गो पर लगाया जाता है। एक उन्नत चेतावनी (दो बार सहित) २०० मीटर की  दुरी पर लगाया जाता है और दूसरा (एक बार सहित)  क्रॉसिंग के पास लगाया जाता है।

खतरनाक खड्ढा :-

Road safety signs

यह संकेत ऐसे स्थान पर उपयोग किया जाता है जहा सड़क में यातायात के चलने के लिए पर्याप्त असुविधा होती है या होने की संभावना होती है।

स्पीड ब्रेकर :-

Road safety signs
 इस संकेत से ड्राइवर को स्पीड ब्रेकर की उपस्थिति की चेतावनी मिलती है।



स्पीड की सिमा और वाहन  नियंत्रण के संकेत :- 

स्पीड की सिमा :- 

Road safety signs

यह संकेत सड़क के एक हिस्से या प्रतिबंधित स्पीड वाले हिस्से की शुरुवात में लगाया जाता है, जहा की. मि. प्रति घंटा में स्पीड की सीमा लिखी जाती है।


चौड़ाई की सीमा :-

Road safety signs
यह संकेत ऐसे स्थान पर लगाया जाता है जहा एक विशेष चौड़ाई से अधिक चौड़ाई वाले वाहनों का प्रवेश वर्जित है।


ऊंचाई की सिमा :-

Road signs
यह संकेत ऐसे स्थानों पर लगाया जाता है जहा ऊपरी बनावट आगे निकली हुई है, जहा ऐसे वाहनों का प्रवेश वर्जित है जिनकी उचाई एक निश्चित सिमा से अधिक है।

लम्बाई की सिमा :-

road sign
यह संकेत ऐसे स्थानों पर लगाया जाता है जहा एक विशेष लम्बाई वाले वाहनों का प्रवेश वर्जित है।


भार की सिमा :- 

road sign
यह संकेत ऐसे स्थानों पर उपयोग किया जाता है ,जहा उन वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबन्ध है, जिन पर लादा गया भाग एक निश्चित सिमा से अधिक है।


इस तरह हम सभी लोग इन सड़क सुरक्षा उपाओं और यातायात नियम , संकेतो का पालन करे तो अपनी और अपने  परिवार की सुरक्षा कर सकते है।  इस स्थिति में कोई दुर्घटना नहीं होगी।

यह आर्टिकल्स जरूर पढ़े........
   शोध और विकास
       टेक्नोलॉजी